Page Nav

HIDE

Lic pension plan detail in Hindi || lic pension plan कितने प्रकार का होता है।

  Lic pension plan detail in Hindi || lic pension plan कितने प्रकार का होता है। बढ़ती उम्र के साथ हमारी चिंताएं भी बढ़ने लगती हैं हमें अपने...

 

Lic pension plan detail in Hindi || lic pension plan कितने प्रकार का होता है।

बढ़ती उम्र के साथ हमारी चिंताएं भी बढ़ने लगती हैं हमें अपने कामकाज को देखते हुए हमें अपने भविष्य की भी चिंता होने लगती हैं अक्सर लोगों का सोचना यह होता है कि अभी हम जवान हैं अगर मान लीजिए हमारे हाथ पांव काम करना बंद कर दिया हमारे उम्र हो गए तो हम पैसे कहां से कब आएंगे उस समय न तो कोई नौकरी होगी ना तो कोई सरकारी पेंशन होगा या फिर ना तो कोई बिजनेस होगा तो ऐसे समस्याओं को देखते हुए lic ने पेंशन योजना लागू किया है जिसे आप अगर अपनी उम्र रहते ही इस Lic pension plan को ले लेते हैं तो आपके आने वाले समय ज्यादा तकलीफ से नहीं गुजरेंगे क्योंकि इस Lic pension plan का उद्देश्य सिर्फ इतना है कि लोगों का जो भविष्य है 60 साल के ऊपर का वह बिना किसी परेशानी का कटे अर्थात पैसों की कमी ना होने पाए इतना पैसा तो नहीं मिलेंगे आपको आप करोड़पति बन जाएंगे लेकिन Lic pension plan लेने से आपके जो बहुत ज्यादा बुरे दिन हो सकते हैं वह अच्छे दिनों में बदल सकता है तो चलिए हम और आप जानते हैं Lic pension plan क्या होते हैं और lic pension plan कितने प्रकार का होता है।

Best Lic pension plan details in Hindi

आज हम इस पोस्ट में 4 मुख्य Lic pension plan के बारे में जानेंगे क्योंकि यह Lic pension plan इसलिए मुख्य है क्योंकि इसके जो फायदे हैं वह और Lic plans से बेहतर प्लान माना जाता है। जिसका विवरण कुछ इस प्रकार से है जैसे।

1. Saral pension (862)
2. Jeevan Akshay VII (857)
3. New Jeevan Shanti (858)
4. Pradhan Mantri Vaya Vandana Yojana (856)

Saral pension (862) details in hindi

Saral pension (862) की खास बात यह होती है कि जैसे ही आप इस पेंशन को ले लेते हैं और इस पेंशन को ले लेते ही आपको तुरंत पेंशन चालू हो जाता है। Saral pension (862) के इस स्कीम से जुड़ने के लिए आपको इसमें सिंगल प्रीमियम पेमेंट करना पड़ेगा अर्थात ऐसा नहीं है कि आपको हर 6 महीने साल भर में इसमें पैसे देने हैं इसमें आपका जितना भी पैसा होगा जितने का आप pension लेना चाह रहे हैं इतना पैसा आपको एक ही बार में भरना पड़ेगा। इसके साथ साथ Saral pension (862) मे एक खास बात यह होता है कि इस पेंशन को लेते समय जितना पेंशन का वादा किया जाता है उतना ही पेंशन हमेशा आपको मिलता रहेगा यानी कि अगर आपको ₹5000 फर्स्ट टाइम में मिला है तो ₹5000 हर समय मिलता रहेगा ना एक रुपए कम होगा और ना ही एक रुपये जादा होगा। अगर देखा जाए तो बहुत सारे पेंशन योजनाएं ऐसी होती हैं जो समय के साथ-साथ आपके पेंशन के पैसों में कटौती करके देने लगते हैं।

Saral pension (862) कितने प्रकार के होते हैं

यह मुख्यतः दो प्रकार का होता है

1. Single Life option
2. Joint life option

आप चाहे तो इसको खुद ही ले सकते हैं और अगर आप अपने वाइफ के साथ में लेना चाहते हैं तो आप जॉइंट लाइव ऑप्शन को ले सकते हैं जॉइंट लाइव ऑप्शन में यह फायदा रहेगा जब आप डेट हो जाएंगे यानी कि आप खत्म हो गए तो आपकी वाइफ को पेंशन चालू हो जाएगा जितना आपको पेंशन मिलता था उतना ही।

Saral pension (862) age boundation क्या है

इस योजना से जुड़ने के लिए आपका कम से कम आयु 40 वर्ष का होना चाहिए बिना 40 वर्ष के उम्र के पहले आप इस योजना का लाभ यानी कि इस पेंशन के भागीदार नहीं बन सकते हैं और अगर अधिकतम आयु  की बात किया जाए तो इस सरल पेंशन लेने का आपका अधिकतम आयु 80 वर्ष तक ही रहता है अर्थात आप 80 वर्ष के बाद इस पेंशन क को नही खरीद सकते है।

कम से कम और ज्यादा से ज्यादा कितने का Saral pension (862) लेना पड़ता है।

इसको एलआईसी डायरेक्ट ना बोल करके इनडायरेक्टली बताया हुआ है इसमें आपको पेंशन जोड़ लेना है कम से कम आप का पेंशन ₹1000 प्रतिमाह लेने पड़ेंगे उसी हिसाब से आपको अपने एलआईसी के पॉलिसी को खरीदना पड़ेगा इसमें ऐसा नहीं है कि आपको प्रतिमाह पेंशन लेना है यह आपका निर्णय होगा कि आप को प्रतिमाह पेंशन लेना है या फिर 3 माह में लेना है या फिर सिक्स माह में लेना है या फिर साल के अंत में लेना है लेकिन याद रखें आप जितने माह में लेंगे उतने माह के हिसाब से आपको ₹1000 गुणा करके पालशी को खरीदना पड़ेगा अगर आप 3 माह पर पेंशन लेना चाहते हैं तो आप को कम से कम ₹3000 वाला पेंशन मोड को चुनना होगा अगर सिक्स मंथ का लेना चाहते हैं तो आप को कम से कम ₹6000 का पेंशन मोड चुनना होगा इसी तरह आप अगर साल भर का लेना चाह रहे हैं तो आपको ₹12000 का पेंशन प्लान लेना होगा यह जो मैं आपको बता रहा हूं यह आपको पैसा मिलेगा इसी हिसाब से आपको अपने परचेज प्राइस को कैलकुलेट करके देने होंगे।

आइये अब इसे एक उदाहरण के माध्यम से समझते हैं

मान लीजिए आपने सिंगल लाइफ पेंशन प्लान को लिए हुए हैं और आपने 1000000 रुपए का पेंशन प्लान प्लस GST दे कर के खरीदे हुए हैं और आपने 1 वर्ष का अवधी के बाद का पेंशन लेने का मूड सिलेक्ट किए हुए हैं तो आपको 1 वर्ष के बाद में 5.115% के हिसाब से 51,115 प्रतिवर्ष आपको पेंशन के रूप में मिलेंगे और जब तक आप जिंदा रहेंगे चाहे 90 साल 95 साल यानी कि चाहे जब तक आप जिंदा रहेंगे तब तक आपको 51,115 रुपए हर वर्ष मिलते रहेंगे और आपके मरने के बाद आपका परचेस प्राइस जो ₹1000000 है वह आपके नॉमिनी को मिल जाएगा यानी कि आप पूरा पेंशन का लाभ उठा ने के बाद आपके जाने के बाद भी आपका पूरा पैसा नामिनी में जिसका नाम रहेगा उसे पूरा पैसा मिल जाएगा ठीक इसी प्रकार से जॉइंट लाइफ का सरल पेंशन लेते हैं तो उसी प्रकार से पैसे आपको मिलेंगे लेकिन जब आप खत्म हो जाएंगे तो आपके वाइफ को उतना ही पेंशन मिलेगा जितना आपको मिलता था और आपके वाइफ के भी खत्म हो जाने के बाद पूरा का पूरा परचेज प्राइस जो है सरल पेंशन का वह पैसा ना मिनी को मिल जाएगा लेकिन इसमें बहुत सारे लोग कंफ्यूज ना होते हैं तीन पति और पत्नी को साथ में पैसा मिलता है क्या तो ऐसा नहीं है इसमें एक बार में सिर्फ 1 लोगों को पैसा मिलेगा और 1 लोगों के मरने के बाद दूसरे को पेंशन चालू होगा। और इसमें आपका जो जीएसटी अलग से देना पड़ता है वह पैसा आपको नहीं मिलेगा।

Saral pension plan other benefit

इस पेंशन को लेने के बाद आप सिक्स मंथ के बाद लोन भी ले सकते हैं और अगर किसी कारणवश आपके घर में कोई बीमार हो गया है कुछ क्रिटिकल कंडीशन आने के बाद आप अपने पेंशन प्लान को सरेंडर भी कर सकते हैं लेकिन सरेंडर करने के बाद आप पेंशन के भागीदार नहीं रह जाएंगे इसके साथ साथ आपके खत्म होने के बाद जो भी आपका जो भी नामनी होगा उसको जो भी परचेज प्राइस दिया जाएगा उसमें एक भी पैसे का टैक्स नहीं देना होगा।

Note

और सारे पेंशन योजनाओं के बारे में जानने के लिए आप अगले पोस्ट को पढ़िए।

कोई टिप्पणी नहीं